(31 अगस्त 2022 के अनुसार स्‍थिति)

क्रम सं.  लेखापरीक्षा रिपोर्ट का वर्ष पैराओं की कुल संख्‍या विधान मण्‍डल में लेखापरीक्षा रिपोर्ट प्रस्तुत करने की तारीख लोसेस द्वारा विचार किए पैराओं की कुल संख्‍या लंबित लेप पैराओं की कुल संख्‍या उन पैराओं की संख्‍या जिनके लिए उपचारी उपाय प्राप्‍त हुए थे लेकिन लो ले स द्वारा विचार नहीं किए गए उपचारी उपाय किए गए लेकिन प्राप्‍त नहीं हुए
2 2012-13 स्‍टांड एलोन रिपोर्ट 1 17.07.2014 0 1 0 1
3 2013-14 30 11.03.2015 16 14 14 0
4 2014-15 31 24.02.2016 16 15 5 10
5 2015-16 29 06.03.2017 8 21 4 17
6 2016-17 28 12.06.2018 11 17 1 16
7 2017-18 18 12.02.2020 5 13 7 6
8 2018-19 12 10.06.2021 0 12 1 11
  कुल 149   56 93 32 61

की गयी कार्रवाई पर व्‍याख्‍यात्‍मक टिप्‍पणी प्रस्‍तुत न करने के लिए मुख्‍य रूप से कर, उत्‍पाद शुल्‍क,  परिवहन तथा आर एवं डीएम विभाग जिम्‍मेदार थे । 2004-06 से 2021-23 की अवधि के लिए गठित लो.ले.स के 120  सिफारिशों पर कार्रवाई टिप्‍पणि‍यां विभिन्‍न विभागों से प्राप्‍त की जानी है ।

31 मार्च 2015 तक की अवधि‍ के लिए, केरल सरकार के सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों से संबंधि‍त भारत के नियंत्रक-महालेखापरीक्षक की रिपोर्टों पर चर्चा सा.क्षे.उ.स. द्वारा की गयी थी । 31 मार्च 2019 तक की चार अनुवर्ती रिपोर्ट जिनमें 45 पैराएं (निष्‍पादन लेखापरीक्षा सहित) सम्‍मि‍लित है, विधान मण्‍डल के समक्ष 05 मई 2017 तथा 10 जून 2021 के बीच प्रस्‍तुत की गयी थी । संबंधि‍त प्रशासनिक विभागों से 45 पैराओं में से 20 से संबंधि‍त उपचारी कार्रवाई विवरणों की प्रतीक्षा की जाती है (31 अक्टूबर 2022 तक की स्‍थि‍ति के अनुसार) । 31 अक्टूबर 2022 तक की स्‍थि‍ति के अनुसार सा.क्षे.उ.स.  के 193 सिफारिशों पर कार्रवाई विवरण की भी प्रतीक्षा की जाती है ।

मार्च 2021 को समाप्‍त वर्ष हेतु अनुपालन लेखापरीक्षा रिपोर्ट(वर्ष 2022 की रिपोर्ट सं.2)  विधान मंडल के समक्ष 28 जून  2022 को प्रस्‍तुत की गई थी । रिपोर्ट में, अन्य बातों के साथ-साथ, कृषि विभाग (पैरा 2.2) के अंतर्गत सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों से संबंधित एक पैराग्राफ शामिल है, जिसके लिए विभाग द्वारा किए गए उपचारात्मक उपायों के विवरण की प्रतीक्षा है।

सा.क्षे.उ.स की 181 सिफारिशों पर की गई कार्रवाई के विवरण भी 31 अक्टूबर 2022 तक प्रतीक्षित हैं।

Back to Top