31/03/2024 तक की स्‍थि‍ति के अनुसार, 65 सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों से संबंधित 279 लेखे बकाए हैं ।

31/01/2023 तक की स्‍थि‍ति के अनुसार, 8 सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों से संबंधित 25 लेखे बकाए हैं ।

 

 

Back to Top