विश्‍व खाद्य कार्यक्रम (डब्‍ल्‍यूएफपी)

विश्‍व खाद्य कार्यक्रम (डब्‍ल्‍यूएफपी) विश्‍व व्यापी भूखमरी से निपटने के लिए विश्‍व की सबसे बड़ी मानवीय एजेंसी है।

डब्‍ल्‍यूएफपी संयुक्त राष्‍ट्र प्रणाली का भाग है और स्वेच्छा से वित्तपोषित है।

1961 में गठित, डब्‍ल्‍यूएफपी विश्‍व दूरदर्शिता का अनुसरण करती है जिसमें प्रत्येक पुरूष, स्त्री और बच्चे की एक सक्रिय और स्वस्थ जीवन के लिए आवश्‍यक खाद्य तक हर समय पहुँच है। डब्‍ल्‍यूएफपी रोम में अन्य सहायक यूएन एजेंसियों -- खाद्य और कृषि संगठन (एफएओ) और कृषि विकास के लिए अंतर्राष्‍ट्रीय निधि (आईएफएडी) - के साथ-साथ अन्य सरकारी, यूएन और एनजीओ सहभागियों के साथ इस दूरदर्शिता के लिए कार्य करती है।

वर्तमान में, श्री स्टीहफेन होंगरे hongrav@cag.gov.in रोम में बाह्य लेखापरीक्षा की निदेशक है।

भारत के नियंत्रक-महालेखापरीक्षक डब्ल्यूएफपी, रोम के जून 2016 तक बाह्य लेखापरीक्षक हैं।

(डब्ल्यूएफपी) की वेबसाईट है: www.wfp.org External website that opens in a new window

Go to the top